Special Address by HE Edgars Rinkevics, Foreign Minister of Republic of Latvia on "India - Latvia Relations in a Changing World" on Tuesday, 14th January 2020 at 11 AM, Board Room, Constitution Club of India, Rafi Marg, New Delhi

Salient Points of PM’s reaction on Union Budget 2019-2020


ये देश को समृद्ध और जन-जन को समर्थ बनाने वाला बजट है। इस बजट से गरीब को बल मिलेगा, युवा को बेहतर कल मिलेगा।

इस बजट के माध्‍यम से मध्‍यम वर्ग को प्रगति मिलेगी, विकास की रफ्तार को गति मिलेगी।

इस बजट से टैक्‍स व्‍यवस्‍था का सरलीकरण होगा, infrastructure का आधुनिकीकरण होगा।

ये बजट उद्यम और उद्यमियों को मजबूत बनाएगा, देश के विकास में महिलाओं की भागीदारी को और बढ़ाएगा।

ये बजट शिक्षा को बेहतर बनाएगा। Artificial Intelligence और space research के लाभ को लोगों के बीच पहुँचाएगा।

इस बजट में आर्थिक जगत के reform भी हैं, आम नागरिक के लिए ease of living भी है और साथ ही गांव और गरीब का कल्‍याण भी है।

ये बजट एक green budget है जिसमें पर्यावरण, electric mobility, solar sector पर विशेष बल दिया गया है।

पिछले पाँच साल में देश निराशा के वातावरण को पीछे छोड़ चुका है, उस वातावरण से बाहर निकल गया है और देश उम्‍मीदों से भरा हुआ है। आत्‍मविश्‍वास से भरा हुआ है।

बिजली, गैस, सड़क, गंदगी, भ्रष्‍टाचार, वीआईपी कल्‍चर, अनेक-अनेक कठिनाइयाँ, सामान्‍य मानवी को अपने हक के लिए जद्दोजहद की जिंदगी, यानी एक प्रकार से खुद से ही उसको जूझना पड़ता था। उसको कम करने के लिए हमने लगातार प्रयास किए हैं। सफलता भी मि‍ली है।

आज लोगों के जीवन में नई आकाँक्षाएँ और खूब सारी अपेक्षाएँ… ये बजट देश को विश्‍वास दे रहा है कि इन्‍हें पूरा किया जा सकता है। ये विश्‍वास दे रहा है कि दिशा सही है, process ठीक है, गति सही है और इसलिए लक्ष्‍य पर पहुँचना भी निश्चित है।

ये बजट आशा, विश्‍वास और आकांक्षा का बजट है। ये बजट 21वीं सदी के भारत की अपेक्षाओं को पूरा करने और न्‍यू इंडिया के निर्माण में एक अहम कड़ी साबित होगा।

ये बजट वर्ष 2022 यानी आजादी के 75 वर्ष से जुड़े संकल्‍पों को पूरा करने में देश का मार्ग निर्धारण करेगा।

बजट में लिए गए फैसले अगले दशक की नींव मजबूत करने के साथ ही नौजवानों के लिए नई संभावनाओं के द्वार खोलेंगे।

ये बजट आपकी अपेक्षाओं का, आपके सपनों का, आपके संकल्‍पों का भारत बनाने की दिशा में एक ऐतिहासिक कदम है।

Leave a Reply