Conference on 'India- Russia in the 21st century: Enhancing the Special Privileged Strategic Partnership' - 13-14 September, 2018 at Nehru Memorial Museum & Library, Teen Murti Bhavan, New Delhi

Salient Points of PM’s address on Civil Services Day 2018 at Vigyan Bhawan, New Delhi on 21 Apr, 2018:

मंच पर उपस्थित सभी महानुभाव और विज्ञान भवन में उपस्थित आप सभी अधिकारीगण, देश के सुदूर कोने में अनवरत देश सेवा में जुटे सिविल सेवा के अन्‍यअधिकारीगण, देवियो और सज्‍जनों।

 

आप सभी को सिविल सेवा दिवस की बहुत-बहुत बधाई है, बहुत-बहुत शुभकामनाएं हैं।

एक बार फिर मुझे आप सभी के साथ बातचीत करने का अवसर मिला है। आज का ये अवसर कई प्रकार से महत्‍व का है, Appreciation है,evaluation है और सबसे बड़ी महत्‍व की बात है introspection भी है।

 

आज ये भी सोचने का दिन है कि बीते समय में जो संकल्‍प लिए गए, जो दिशा तय हुई, उस तरफ हम कितना आगे बढ़े, कितना सफल रहे। देश के सामान्‍य मानवी की जिंदगी में हम कितना बदलाव ला पाए।

 

साथियो, इन awards का उद्देश्‍य motivation तो है, लेकिन साथ-साथ इसका विस्‍तार हो, व्‍यापकता हो, और ज्‍यादा कैसे हो; ये एक प्रकार से सरकार की प्राथमिकताओं को भी परि‍लक्षित करता है। और इस बार भी priority programs और innovation की कैटेगिरी में पुरस्‍कार की व्‍यवस्‍था की गई थी।priority programs में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, दीनदयाल उपाध्‍याय कौशल योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना और digital payments, इनके प्रचार-प्रसार के लिए भी award दिए गए।

कभी-कभी हमने देखा होगा कि घर में एकाध बिजली का बल्‍ब चलता नहीं है। तो सीधा सी सोच यहीं होता है कि नहीं ये तो फ्यूज हो गया है, ये लट्टू बेकार है।

लेकिन दूसरा समझदार होता है, कहता है ठहरो जरा, कहीं disconnect तो नहीं हो गया?  तो वो प्‍लग को ठीक करता है और फिर वो लट्टू काम करने लग जाता है। कहीं-कहीं वो किनारे पर बैठा हुआ हमारा व्‍यक्ति हमसे disconnect तो नहीं हो गया है? और एक बार आप देख लीजिए, थोड़ा सा connect कर लीजिए, फिर वो बिजली की तरह चमकने लग जाएगा और पूरी रोशनी देना शुरू कर देगा, जो ओरों की जिंदगी को बदलने के लिए काबिल होती है।

Leave a Reply